विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा- ‘तेज़ी से बढ़ रहे हैं कोरोना से मामले

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार कोरोना वायरस महामारी से दुनिया को जल्द निजात नहीं मिलने वाली है. संगठन ने कहा है कि बीते चौबीस घंटों में पूरी दुनिया में 106,000 लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जो संक्रमितों की संख्या के हिसाब से एक दिन का अब तक का सबसे बड़ा उछाल है.
  • संगठन के निदेशक टेड्रॉस एडहॉनम गीब्रिएसुस ने जेनेवा में कहा कि एक तरफ़ धनी मुल्क कोरोना के कारण लगाए लॉकडाउन की स्थिति से बाहर निकलने की कोशिश में हैं तो दूसरी तरफ ग़रीब मुल्कों में ये वायरस तेज़ी से फैल रहा है.

’कोरोना की दूसरी लहर के लिए तैयार रहे यूरोप’

  • यूरोपीय संघ की एजेंसी यूरोपियन सेंटर फ़ॉर डिज़ीज़ प्रीवेन्शन एंड कंट्रोल की निदेशक डॉक्टर एंड्रिया अम्मॉन ने कहा है कि यूरोप को कोराना की दूसरी लहर के लिए तैयार रहना चाहिए. एंड्रिया का कहना है कि “मुझे लगता है कि अब बस ये सवाल बाक़ी है कि ये दूसरी लहर कब तक आएगी और कितनी बड़ी होगी.”
  • लंबे लॉकडाउन के बाद यूरोप के कई देश अब अपनी अर्थव्यवस्था पर ध्यान दे रहे हैं और लोगों पर लगाई गई पाबंदियों में ढील दे रहे हैं.
, कोरोना वायरस महामारी से जुड़े अब तक के बड़े अपडेट्स, Tripura, Tripura

जी-7 देशों में नेता बैठक के लिए आएं वॉशिंगटन- ट्रंप

  • कोरोना वायरस महामारी के बीच अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं कि इस बार होने वाला जी7 देशों का सम्मेलन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए न हो.
  • ट्रंप का कहना है कि वो कोशिश करेंगे कि इस बार की बैठक वॉशिंगटन में हो जिसमें सभी सात देशों के प्रतिनिधि खुद शिरकत करें. इससे पहले कोरोना महामारी के कारण जी7 देशों का सम्मेलन रद्द कर दिया गया था.
  • ट्रंप ने सोशल मीडिया पर ट्वीट किया, “मेरा मानना है कि जी-7 देशों का सम्मेलन वॉशिंगटन के जाने माने कैंम्प डेविड में हो और तय तारीख़ को या फिर किसी और दिन हो. दूसरे देश भी अब अपनी अर्थव्यवस्था दुरुस्त करने की कोशिश में हैं और सभी देश एक जगह आएंगे तो ये स्थितियों के सामान्य होने की दिशा में अहम क़दम होगा.”

Social embed from twitter

Donald J. Trump

@realDonaldTrump

Now that our Country is “Transitioning back to Greatness”, I am considering rescheduling the G-7, on the same or similar date, in Washington, D.C., at the legendary Camp David. The other members are also beginning their COMEBACK. It would be a great sign to all – normalization!

31.4K people are talking about this

Report this social embed, make a complaint

Donald J. Trump

@realDonaldTrump

Some wacko in China just released a statement blaming everybody other than China for the Virus which has now killed hundreds of thousands of people. Please explain to this dope that it was the “incompetence of China”, and nothing else, that did this mass Worldwide killing!

101K people are talking about this

‘रेस्पॉन्स प्लान में रखें जान बचाने की जानकारी

  • ट्रंप प्रशासन ने संयुक्त राष्ट्र से कहा है कि संगठन कोविड 19 से जुड़े अपने रेस्पॉन्स प्लान में यौन स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी हटाए.
  • अंतरराष्ट्रीय विकास के लिए अमरीकी एजेंसी के कार्यवाहक प्रशासक, जॉन बार्सा ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस को एक पत्र लिख कर कहा कि संगठन “जान बचाने से जुड़ी जानकारी पर ध्यान केंद्रित” करे.

कोरोना को लेकर एक बार फिर ट्रंप का चीन पर वार

  • डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर कोरोना वायरस की उत्पत्ति के लिए चीन को ज़िम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि वो “दुनिया भर में बड़े पैमाने पर लोगों जान लेने के लिए ज़िम्मेदार है.”
  • उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा कि “चीन के किसी पागल ने एक बयान जारी कर चीन के सिवा की सभी को कोरोना वायरस के लिए ज़िम्मेदार ठहराया है. कोई उस व्यक्ति को समझाए कि दुनिया भर में हो रही मौतों के लिए चीन की नाकामयाबी ज़िम्मेदार है.”

निचले स्तर पर वैश्विक आयात-निर्यात – WTO

  • विश्व व्यापार संगठन के आँकड़ों के अनुसार, अंतर्राष्ट्रीय आयात और निर्यात कम से कम चार सालों के अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया है.संगठन ने चेतावनी दी है कि साल 2020 की पहली छमाही में आयात निर्यात के हालात सुधरेंगे, ऐसे कोई आसार नहीं दिखते.

पर्यटक जा सकेंगे यूनान

  • यूनान के प्रधानमंत्री किर्याकॉस मीत्सोटाकिस ने घोषणा की है कि 15 जून से यूनान को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा.
  • बुधवार को टेलीविज़न पर प्रसारित एक संदेश में उन्होंने कहा, “आधिकारिक रूप से 15 जून से देश में पर्टयन का सीज़न शुरू होता है लेकिन इस बार कोराना महामारी के कारण ये प्रभवित हुआ है. अब जून 15 के बाद से विदेश से आने वाले सैलानियों के लिए होटल खोल दिए जाएंगे. साथ ही देश में मौजूद पर्यटन स्थलों के लिए सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी एक जुलाई से शुरू की जाएंगी.”

द. अफ़्रीका में कोरोना से दो दिन के बच्चे की मौत

  • दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्री ज्वेली एम कीज़े ने कहा है कि देश में कोरोना वायरस के कारण पहली बार एक नन्हे बच्चे की जान गई है.उन्होंने कहा कि दो दिन के एक प्रीमैच्योर बेबी की मौत कोरोना से हो गई है. बच्चे को सांस लेने में तकलीफ़ थी और उसे जन्म के बाद तुरंत वेंटिलेटर सपोर्ट दिया गया था.

स्वास्थ्य व्यवस्था में फ्रांस करेगा व्यापक सुधार

  • फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने स्वास्थ्य व्यवस्था में व्यापक सुधार का ऐलान किया है. फ्रांस की स्वास्थ्य व्यवस्था को दुनिया भर में बेहतरीन मानी जाती है कि लेकिन कोरोना महामारी ने एक तरह से ये साबित कर दिया कि इसे और दुरुस्त किए जाने की ज़रूरत है.
  • राष्ट्रपति मैक्रों पहले ही स्वास्थ्य व्यवस्था में अधिक निवेश और कर्मचारियों के “वेतन, करियर और उनकी ट्रेनिंग” पर अधिक ध्यान देने की बात कर चुके हैं.
, कोरोना वायरस महामारी से जुड़े अब तक के बड़े अपडेट्स, Tripura, Tripura

कोरोना काल में तूफ़ान बना मुसीबत

  • भारत के पड़ोसी बांग्लादेश में बुधवार को एक शक्तिशाली तूफ़ान, अंफन ने दस्तक दी है. माना जा रहा है कि बीते दस सालों में आने वाला ये सबसे शक्तिशाली तूफ़ान है.
  • अधिकारी यहां 22 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों में पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन कोरोना महमारी के बीच इस काम में उन्हें मुश्किल पेश आ रही है.

रोहिंग्या को बचाएं सरकारें- एमनेस्टी

  • इस बीच मानवाधिकार संस्था एमनेस्टी इंटरनेशनल ने सरकारों से अनुरोध किया है कि वो समंदर में फंसे 1,000 रोहिंग्या शरणार्थियों को खोजने के लिए तत्काल खोज अभियान चलाएं. संगठन का कहना है कि तूफान अंफन के कारण शरणार्थियों की जान को ख़तरा हो सकता है.
  • संगठन का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण सरकारें महीनों से समुद्र में फंसी शरणार्थियों की नावों को अपने यहां उतरने नहीं करने दे रहीं.

18 देशों में काम बंद करेगा ऑक्सफैम

  • कोरोना वायरस महामारी के कारण आर्थिक संकट से जूझ रहा मानवाधिकार संगठन ऑक्सफैम इंटरनेशनल लगभग 1,500 कर्मचारियों को नौकरी से निकालेगा.
  • साथ ही संगठन 18 देशों मे चल रहे अपने काम को भी बंद करेगा. इन देशों में अफगानिस्तान भी शामिल है, जहां संगठन ने 50 सालों तक काम किया है.
Tags: , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment